पेट के कीड़ों का घरेलू इलाज और लक्षण | Home remedies and symptoms of stomach worms

November 7, 2019 0 Comments

पेट में कीड़े होना बच्चों में होने वाली एक आम बीमारी है यह 10 से 12 साल के बच्चों में कभी भी हो सकती हैं | इसका मुख्य कारण गलत खानपान, सफाई पर ध्यान ना देना, दूषित पानी का सेवन करना, रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होना या अधिक मात्रा में चॉकलेट या टॉफी खाना है | पेट में कीड़े होने पर बच्चे को खाया पीया नहीं लगता और शारीरिक कमजोरी बनी रहती है |

पेट के कीड़ों का घरेलू इलाज और लक्षण {Home remedies and symptoms of stomach worms}
source by google

पेट में कीड़े कई प्रकार के होते हैं जिनका रंग और आकार सभी अलग-अलग होते हैं जिन लोगों के पेट में कीड़ों की कम मात्रा होती है उन्हें कोई खास लक्षण नजर नहीं आता | समय रहते इनका इलाज करवा लेना चाहिए नहीं तो यह समस्या को बढ़ा सकती हैं |पेट में कीड़े होने पर अच्छा भोजन खाने के बाद भी वजन घटने लगता है और बिना वजह पेट में दर्द भी हो जाता है |

इस बीमारी का घरेलू उपाय से इलाज संभव है लेकिन सबसे पहले हमें इसके लक्षण पता होना चाहिए तभी इसके लक्षण पहचान कर इसका उचित इलाज किया जा सकता है |

पेट में कीड़े होने के लक्षण | Symptoms of stomach worms

  • ज्यादा मात्रा में दस्त लगना, पेट दर्द
  • पोस्टिक भोजन खाने के बाद भी वजन ना बढ़ना
  • हल्का बुखार
  • चिड़चिड़ापन
  • मूत्र मार्ग में खुजली होना
  • आंखों का रंग लाल होना
  • चेहरे की रंगत बिगड़ना
  • जीभ का सफेद हो जाना
  • मल त्याग करते समय पतले लंबे कीड़े निकलना

ऊपर दिए गए कुछ ऐसे लक्षण है जिन्हें देखकर आप जान सकते हैं कि पेट में कीड़े हैं और इनका उचित इलाज करवा सकते हैं |

पेट के कीड़ों का घरेलू इलाज | Home remedies for stomach worms

पेट में कीड़ों के लिए नीम

पेट के कीड़ों का घरेलू इलाज और लक्षण {Home remedies and symptoms of stomach worms}
source by google

नीम का स्वाद कड़वा जरूर होता है लेकिन आयुर्वेद में हर बीमारी के लिए यह एक औषधि है | यह पेट से संबंधित कई बीमारियों को दूर करने का काम करती है | पेट में कीड़े होने पर नीम का सेवन एक काफी असरदार तरीका है |

नीम के ताजे पत्ते तोड़कर अच्छी तरह से धोकर साफ कर लें और इसे मिक्सर में पीसकर बारीक चटनी बना लें |इस पेस्ट की एक चम्मच एक गिलास गुनगुने पानी में डालकर हर रोज सुबह खाली पेट पिए, पेट के कीड़े बहुत ही जल्द मरकर मल के जरिए बाहर आ जाएंगे |

जीरा

जीरा हमारी सेहत और पेट संबंधी विकारों को दूर करने का काम करता है | जीरा हमारी पाचन शक्ति को तंदुरुस्त रखता है और कब्ज, एसिडिटी, दस्त, मरोड़ आदि समस्याओं से छुटकारा दिलाने का काम करता है | पेट में कीड़े होने पर जीरा के साथ अगर गुड़ खाया जाए तो बहुत ही जल्द पेट के कीड़े खत्म हो जाते हैं |

अनार

पेट के कीड़ों का घरेलू इलाज और लक्षण {Home remedies and symptoms of stomach worms}
source by google

अनार खून बढ़ाने के साथ-साथ पेट से संबंधित बीमारियों को दूर करने का काम भी करता है | अनार और इसके छिलके दोनों ही सेहत के लिए गुणकारी है पेट के कीड़ों का नाश करने के लिए अनार के छिलकों को धूप में सुखाकर बारीक चूर्ण बना लें | इस पाउडर को हर रोज 2 समय पानी में मिलाकर पिए ,बहुत ही जल्द पेट के कीड़े मर जाएंगे |

कद्दू के बीज

आपको सुनकर हैरानी होगी कि क्या कद्दू के बीज से पेट के कीड़ों का नाश कर सकते हैं जी हां बिल्कुल कर सकते हैं क्योंकि कद्दू के बीज में विटामिन, अमीनो एसिड, कार्बोहाइड्रेट्स, मिनरल्स आदि पाए जाते हैं | कद्दू के बीज को पीसकर चूर्ण बना लें और किसी भी तरह के जूस में डालकर पिए ,पेट के कीड़ों का खात्मा होगा |

अजवाइन

पेट के कीड़ों का घरेलू इलाज और लक्षण {Home remedies and symptoms of stomach worms}
source by google

अजवाइन का इस्तेमाल लगभग पेट की सभी समस्याओं के लिए किया जाता है | अजवाइन को एक आयुर्वेदिक औषधि के रूप में इस्तेमाल किया जाता है जो हर रसोई घर में आसानी से मिल जाती हैं |अजवाइन में मौजूद सिमोल नामक तत्व पेट के कीड़ों को खत्म करने का काम करता है इसलिए पेट में कीड़े होने पर अजवाइन खाने की सलाह दी जाती है |अजवाइन को नियमित सुबह-शाम गुनगुने पानी के साथ ले, पेट के कीड़ों का बहुत ही जल्द नाश होगा |

पेट के कीड़ों को दूर करें हल्दी

हल्दी का उपयोग दर्द, सूजन, घाव भरने या पेट दर्द में करते हैं | हल्दी एक एंटीसेप्टिक औषधि है और इसमें मौजूद एंटीमाइक्रोबॉयल गुण पेट के कीड़ों को खत्म करने में मदद करते हैं एक कप पानी में एक या दो चुटकी हल्दी और काला नमक डालकर सुबह खाली पेट पिए, पेट में कीड़ों की समस्या दूर होगी |

गाजर

पेट के कीड़ों का घरेलू इलाज और लक्षण {Home remedies and symptoms of stomach worms}
source by google

गाजर का जूस सर्दियों में पिया जाता है यह शरीर में रक्त की कमी को पूरा करने के साथ-साथ इसमें मौजूद विटामिन ए आंखों की रोशनी बढ़ाने का भी काम करता है | गाजर में विटामिन ए, विटामिन सी के साथ-साथ beta-carotene की मात्रा पाई जाती है जो पेट के कीड़ों की समस्या को दूर करने में मदद करता है | सुबह खाली पेट गाजर का जूस या फिर कच्ची गाजर को काला नमक लगाकर खाए ,बहुत ही जल्द पेट के कीड़े मर जाएंगे |

टमाटर

टमाटर में मौजूद विटामिन सी चेहरे की रौनक बढ़ाने के साथ-साथ पेट के कीड़ों का नाश करता है इसके लिए सुबह खाली पेट टमाटर को काला नमक और काली मिर्च डालकर खाएं |

लॉन्ग

पेट के कीड़ों का घरेलू इलाज और लक्षण {Home remedies and symptoms of stomach worms}
source by google

पेट में कीड़े होने पर तीन से चार लॉगों को एक कप पानी में उबालें, गैस से उतारने के बाद इसमें शहद मिलाएं और चाय की तरह धीरे-धीरे पिए | लॉन्ग में मौजूद इयूजिनॉल नामक तत्व  पेट के कीड़ों और उनके लारवा{ कीड़ों के बच्चे } को नष्ट करने की क्षमता रखता है |

सेब का सिरका

पेट के कीड़ों के इलाज में आप सेब के सिरके को शामिल कर सकते हैं |सेब का सिरका पेट और अमास्या में फंसे कीड़ों को नष्ट करने का काम करता है और यह जल्द ही आपको स्वस्थ बना देता है | एक गिलास गुनगुने पानी में एक चम्मच सेब का सिरका और शहद मिलाकर दिन में दो बार पिए, बहुत ही जल्द पेट के कीड़े मरकर मलद्वार से बाहर आ जाएंगे |

लहसुन

पेट के कीड़ों का घरेलू इलाज और लक्षण {Home remedies and symptoms of stomach worms}
source by google

लहसुन में एंटीसेप्टिक, एंटीफंगल और एंटीबैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं और साथ में सल्फर की मात्रा पाई जाती है जो पेट के कीड़ों को मारने की क्षमता रखता है सुबह खाली पेट लहसुन की एक कलि पानी के साथ गटक जाए  पेट में मौजूद कीड़ों का नाश होगा |

लहसुन की चटनी को आप अपने भोजन में जरूर शामिल करें |

एक  गिलास दूध में लहसुन की  5 से 7 कलियों को छीलकर उबाल लें, उबालने के बाद गुनगुना करके रात को सोते समय पिए ऐसा नियमित करें, पेट के कीड़े धीरे-धीरे खत्म हो जाएंगे |

पेट के कीड़ों से बचाव कैसे करें | How to prevent stomach worms

  • फल और सब्जियों को अच्छी तरह से धोकर इस्तेमाल करें |
  • शौचालय जाने के बाद हाथों को अच्छी तरह से धोएं |
  • खाना बनाने और खाने से पहले किसी अच्छे साबुन या हैंडवाश से हाथों को अच्छी तरह धोएं |
  • खाने पीने की चीजों को ढक कर रखें |
  • छोटे बच्चों को मुंह और नाक में उंगली डालने से रोके |
  • दूषित पानी का इस्तेमाल ना करें अगर आपको पानी दूषित लगे तो उसे उबाल कर ठंडा करके पिए |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *