Migraine In Hindi {माइग्रेन}

Migraine In Hindi {माइग्रेन}
source by google

आजकल सिर दर्द की समस्या हर किसी को है लेकिन अगर यह समस्या ज्यादा बढ़ जाए या इसका दर्द असहनीय हो जाए तो माइग्रेन का कारण बन सकती है | कई बार माइग्रेन का दर्द दो-तीन घंटे तक ही रहता है और कई बार दो-तीन घंटे से लेकर कई दिनों तक भी रह सकता है | माइग्रेन सिर में अचानक उठने वाला दर्द है इस दर्द में खून का संचार दिमाग में तेजी से होने लगता है जिसके कारण दर्द हो जाता है |

माइग्रेन का दर्द कभी भी एक तरफ नहीं होता, यह दर्द घूमता रहता है कभी दाएं तो कभी बाएं |माइग्रेन पुरुषों के मुकाबले महिलाओं में ज्यादा होता है इस रोग का मुख्य कारण नींद की कमी, मानसिक तनाव, हाई ब्लड प्रेशर या फिर ज्यादा मात्रा में पेन किलर का इस्तेमाल करने से होता है | सिर दर्द की समस्या को कभी भी हल्के में नहीं लेना चाहिए | माइग्रेन के लक्षणों का हमें पता होना चाहिए तभी हम इसका समाधान कर सकते हैं |

आइए जानते हैं माइग्रेन के लक्षण{ Migraine Ke Lakshan In Hindi }

  • माइग्रेन का दर्द सामान्य नहीं होता यह दर्द भयानक रूप से और सिर में सुई चुभने जैसा होता है |
  • माइग्रेन के दर्द में आंखों में जलन,पलके झुकाने में दर्द यहां तक की तेज रोशनी देखने पर भी सिर दर्द होने लगता है
  • शरीर में थकावट बनी रहती है लेकिन नींद नहीं आती, तेज दर्द के साथ उल्टी जैसा महसूस होता रहता है |
  • सीढ़ियों से चढ़ने उतरते समय या फिर चलने फिरने से भी माइग्रेन का दर्द बढ़ जाता है |
  • बार-बार पेशाब जाने की इच्छा भी माइग्रेन का ही एक लक्षण है |
  • माइग्रेन के रोगी बिना कारण ही उदास हो जाते हैं या फिर खुश हो जाते हैं |

माइग्रेन का घरेलू इलाज{Migraine Home Remedies In Hindi }

देसी घी

Migraine In Hindi {माइग्रेन}
source by google

माइग्रेन के दर्द में देसी घी बहुत ही फायदेमंद है यह एक औषधि के रूप में काम करता है अगर आप को एकदम से  माइग्रेन का दर्द हो जाए तो ज्यादा पेन किलर लेने की वजह शुद्ध गाय के घी की दो-दो बूंदें नाक में डालें |इससे माइग्रेन के दर्द में आराम मिलेगा |

अदरक

Migraine In Hindi {माइग्रेन}
source by google

अदरक को हम हमेशा से ही सर्दी ,खासी ,जुखाम में या फिर मसालों के रूप में इस्तेमाल करते आए हैं लेकिन अदरक का उपयोग हम माइग्रेन के दर्द में भी कर सकते हैं |अदरक का रस और शहद को बराबर मात्रा में मिलाकर पीने से माइग्रेन के दर्द में राहत मिलती है |ज्यादा दर्द में आप अदरक का टुकड़ा भी मुंह में रख सकते हैं या फिर नींबू का रस और अदरक डालकर चाय बनाकर भी पी सकते हैं |

माइग्रेन के दर्द के लिए दालचीनी

Migraine In Hindi {माइग्रेन}
source by google

दालचीनी सिर्फ आपके खाने का स्वाद ही नहीं बढ़ाती बल्कि कई बीमारियों का इलाज भी करती है | यह एक काफी प्रभावी तरीका है दालचीनी को पानी मिलाकर पीस लें, लगभग 30 मिनट इस पेस्ट को माथे पर लगाकर रखें, माइग्रेन के दर्द से राहत मिलेगी |

अंगूर का रस माइग्रेन के लिए

Migraine In Hindi {माइग्रेन}
source by google

आपको सुनकर हैरानी होगी कि अंगूर का उपयोग तो हम मुंह का टेस्ट अच्छा करने के लिए या फिर अंगूर को हम एक  फल के रूप में खाते हैं क्या इसका उपयोग माइग्रेन के दर्द में भी कर सकते हैं | जी हां बिल्कुल कर सकते हैं क्योंकि अंगूर में फाइबर, विटामिन ए, विटामिन सी होता है यह माइग्रेन के दर्द में राहत दिलाने के लिए हमारी मदद करता है |  अंगूर और पानी को मिलाकर मिक्सचर में इसका रस निकाल ले फिर इस जूस को दिन में दो बार पिए, दर्द में आराम मिलेगा |

तेज रोशनी से दूर रहें

Migraine In Hindi {माइग्रेन}
source by google

अगर आपका काम ज्यादा तेज रोशनी में बैठने का है तो इससे दूर रहें क्योंकि तेज रोशनी से दर्द और ज्यादा बढ़ सकता है | कंप्यूटर, मोबाइल, टीवी या ज्यादा तेज धूप में आने से बचें हालांकि माइग्रेन के मरीज को नींद कम आती है लेकिन कोई टेंशन ना ले कर रिलैक्स होने की कोशिश करें और 8 से 10 घंटे की नींद जरूर ले |

सिर की मालिश करें

Migraine In Hindi {माइग्रेन}
source by google

माइग्रेन के दर्द से छुटकारा पाने का सबसे अच्छा और घरेलू उपाय सिर की मालिश करना है | मालिश करने से ब्लड सरकुलेशन ठीक रहता है और दिमाग की नसों में रुका हुआ ब्लड दौड़ने लगता है | माथे के आसपास रिलैक्स पॉइंट को दबाए, आराम आएगा | यह मालिश आप खुद ना करके किसी और से करवाएं, सिर के साथ-साथ गर्दन और कंधों की मालिश करवाएं |

सेब का सेवन

Migraine In Hindi {माइग्रेन}
source by google

एक सेब रोज खाओ, डॉक्टर को दूर भगाओ यह तो आपने सुना ही होगा लेकिन यह बिल्कुल सच है अगर माइग्रेन के मरीज हर रोज सुबह खाली पेट सेब का सेवन करें तो कुछ ही दिनों में माइग्रेन की समस्या जड़ से खत्म हो जाएगी |

पालक और गाजर का जूस

Migraine In Hindi {माइग्रेन}
source by google

माइग्रेन रोगियों के लिए पालक और गाजर का जूस बहुत ही फायदेमंद है हर रोज दोपहर के समय पालक और गाजर का जूस पिए, इस जूस में आप अदरक भी डाल सकते हैं | इसके अलावा अपने शरीर में पानी की कमी ना होने दें ,भरपूर मात्रा में पानी पिए |

प्राचीन समय से ही योग द्वारा कई बीमारियों को दूर किया गया है |आयुर्वेद में माइग्रेन का भी योग द्वारा इलाज किया जा सकता है आज हम आपको कुछ ऐसे योग के बारे में बताएंगे जिनसे माइग्रेन के दर्द में आपको बहुत ही जल्द आराम मिलेगा |

माइग्रेन के लिए योगासन {Yogasna for migraine In Hindi  }

कपालभाति योग

Migraine In Hindi {माइग्रेन}
source by google

यह योग करना बहुत ही आसान है इस योग को करने के लिए योग मेट पर सुखासन की स्थिति में बैठ जाएं फिर गहरी सांस अंदर की तरफ खींचें |सांस को  इतनी अंदर तक ले जिससे आपका पेट बिल्कुल अंदर चला जाए फिर धीरे-धीरे सांस छोड़े, ऐसा 10 से 15 मिनट लगातार करें, माइग्रेन के दर्द में आराम मिलेगा |

हंसपदआसन योग

Migraine In Hindi {माइग्रेन}
source by google

इस योग में दोनों पैरों को आपस में मिलाकर सीधा खड़े हो जाएं फिर सांस को अंदर खींचते हुए दोनों पैरों को जमीन पर अच्छी तरह टीका कर, हाथों को ऊपर ले जाते हुए धीरे-धीरे पैरों की ओर ले जाएं इस दौरान धीरे-धीरे सांस भी छोड़े |   घुटनों को ना मोड़े एकदम सीधा रखें, ऐसा 4 से 5 बार करें, माइग्रेन के दर्द में आराम मिलेगा |

अलोम विलोम योगा

यह योग एकदम से आसान और हर रोज किया जाने वाला योग है  इस योग में नाक कोअपने दाएं हाथ के अंगूठे से नाक के छेद को बंद करें और बाएं नाक के छेद से सांस अंदर की तरफ से खींचे, सांस को इतना खींचे की पेट आपका बिल्कुल चिपक जाए फिर धीरे-धीरे सांस छोड़ें यह प्रक्रिया अब दोबारा बाएं नाक वाले छेद के साथ दोहराएं ऐसा 5 से 6 बार करें यह योगासन घर की छत पर खुली जगह में बैठकर करें |

हलासन योग

इस योग में शरीर की मुद्रा एकदम हल समान हो जाती है इसलिए इसे हलासन योग कहते हैं |यह योग करने के लिए योग मेट पर लेट कर अपने दोनों पंजों को आपस में मिला लें अब दोनों पैरों को धीरे-धीरे ऊपर उठाएं और धीरे-धीरे सांस को बाहर छोड़ते हुए सिर की ओर ले जाएं, अब दोनों पंजों को धीरे-धीरे जमीन की ओर ले आएं और फिर अपनी पहली मुद्रा में आ जाएं ऐसा 4 से 5 बार करें, कुछ ही दिनों में आप की माइग्रेन की समस्या दूर हो जाएगी |

नोट

माइग्रेन के दर्द में ज्यादा दर्द निवारक दवाइयों का इस्तेमाल ना करें |ऊपर दिए गए घरेलू उपायों से ही इसे ठीक करने की कोशिश करें अगर फिर भी आराम ना आए और दर्द असहनीय लगे तो किसी अच्छे डॉक्टर की राय ले |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *